पकड़ा गया 13,860 करोड़ की ब्लैक मनी वाला व्यापारी

नई दिल्ली:  केंद्र सरकार की इनकम डिक्लेयरेशन स्कीम के तहत 13,860 करोड़ की अघोषित आय का खुलासा करने वाला गुजरात के व्यापारी महेश शाह को आयकर विभाग ने हिरासत में ले लिया है। व्यापारी में मीडिया में ये बयान दिया था कि कमीशन के लालच में उसने कुछ लोगों के कहने पर पैसों का खुलासा किया था।

काली कमाई का खुलासा करने के बाद व्यापारी महेश शाह रहस्यमयी तरीके से गायब हो गए थे। जिसके बाद आयकर विभाग की तरफ से उनकी खोजबीन शुरु की गई। शाह ने कहा मैं आयकर अधिकारियों के सामने लोगों के नाम बताउंगा। मैं किसी से भाग नहीं रहा। बल्कि कुछ वजह थी इसलिए मैं मीडिया से दूर था।

उन्होंने कहा जिनके पैसों का खुलासा आईडीएस के तहत किया गया है वे अंतिम वक्त में पीछे हट गए। इसलिए मैं टैक्स की पहली किश्त नहीं भर पाया। मैं जल्द ही पूरे मामले का खुलासा करुंगा। जिनके पैसों को लेकर मुझपर सवाल उठाए जा रहे हैं वो पैसे बड़े कारोबारा और नेताओं के हैं।

अहमदाबाद के एक पुरानी बिल्डिंग में 4 बीएचके फ्लैट में महेश शाह रहते थे। वो ऑटोरिक्शा से ही काम पर जाते थे और कई पड़ोसियों से उन्होंने उधार भी ले रखा था। शाह की तरफ से इनकम डिक्लरेशन स्कीम के तहत 13,860 करोड़ रुपये का खुलासा किया गया था। ये रकम आईडीएस के जरिये बताए गए कुल 65 हजार करोड़ का 20 फीसदी है।

Loading...