sheila-dixit-former-cm-delhi

टैंकर घोटाले में शीला से 18 सवाल, जवाब देने के लिए अनलिमिटेड वक्त

टैंकर घोटाले में शीला से 18 सवाल, जवाब देने के लिए अनलिमिटेड वक्त

दिल्ली: दिल्ली जलबोर्ड के टैंकर घोटाले में ACB ने दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित को सवालों की लिस्ट सौंपी है। ACB की तरफ से शीला दीक्षित से 18 सवाल पूछे गए हैं। खास बात ये है कि इन सवालों का जवाब देने के लिए कोई समय सीमा तय नहीं है। ACB के सवालों पर जब पूर्व सीएम शीला दीक्षित से पत्रकारों ने सवाल पूछे तो उनका कहना था कि मामला काफी पुराना है और ACB के सवाल काफी लंबे हैं। इसलिए जवाब देने में वक्त लगेगा। जब उनसे ये पूछा गया कि ACB की तरफ से कोई डेडलाइन दी गई है जवाब देने के लिए तो शीला दीक्षित का कहना था कि ऐसा कुछ नहीं कहा गया है ACB ने कहा कि जब जवाब तैयार हो जाए तो बता दीजियेगा। कोई समय सीमा नहीं है। यानी जब शीला दीक्षित चाहें तब जवाब दे दें।

दिल्ली जलबोर्ड में टैंकर घोटाले का ये मामला 2010-11 के दौरान का है। तब दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित थीं और जल बोर्ड की अध्यक्ष भी वही थीं। टैंकरों को पानी की सप्लाई करने के लिए किराये पर लेना था। इससे दिल्ली के उन इलाकों में पानी की सप्लाई होनी थी जहां पाइपलाइन नहीं थी। स्टेनलेस स्टील के 450 टैंकर किराये पर लेने की बात थी। इसके लिए सरकार की तरफ से 2010 में टेंडर निकाला गया। जिसकी लागत 50.98 करोड़ रखी गई थी। फिर 2010 का टेंडर रद्द कर अगले डेड़ साल में चार बार टेंडर निकाले गए और लागत बढ़ाकर 637 करोड़ कर दी गई। आखिरकार दिसंबर 2011 में 10 साल के लिए टैंकर लीज पर लिए गए।

Loading...

Leave a Reply