अंतराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान अपने रेंजर्स को हटाकर सेना को तैनात कर रहा है

नई दिल्ली:  बीएसएफ की तरफ से मुंहतोड़ जवाब मिलने के बाद रहम की भीख मांग रहे पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय सीमा पर एक नई चाल चली है। खबर है कि अंतरराष्ट्रीय सीमा पर तकरीबन 190 किलोमीटर के इलाके में पाकिस्तान सैनिकों को तैनात कर रहा है। खबर ये भी है कि जहां पाकिस्तानी सेना की तैनाती की गई है वहां से पाकिस्तानी रेंजर्स को हटा लिया गया है।

वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक अभी यह कह पाना मुश्किल है कि अंतरराष्ट्रीय सीमा पर रेंजर्स के बदले पाकिस्तानी सेना ने पूरी तरह से अपना नियंत्रण लिया है या नहीं। बीएसएफ के अधिकारियों ने सरकार को भी इस बात की जानकारी दे दी है कि पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर अपने सैनिकों की तैनाती बढ़ा रहा है। पाकिस्तान सेना के साथ साथ हथियार की भी तैनाती कर रहा है।

खुफिया रिपोर्ट से अभी ये साफ नहीं हो पाया है कि पाकिस्तान ऐसा क्यों कर रहा है। सरहद पार गाड़ियों में सैनिकों को अंतरराष्ट्रीय सीमा तक पहुंचाया जा रहा है। सरहद पर इस सरगर्मी के पीछे पाकिस्तान के सेना प्रमुख राहिल शरीफ की रिटायरमेंट भी है। इस तरह के हालात बनाकर राहिल शरीफ अपने कार्यकाल को आगे बढ़ाने की कोशिश में हैं। कोशिश ये भी है कि अगर राहिल शरीफ का कार्यकाल आगे नहीं भी बढ़े तो शरीफ ही अपना उत्तराधिकारी तय करें।

दिवाली के करीब पाकिस्तान भारतीय इलाके में जबरदस्त गोलीबारी कर रहा था। सेना के साथ साथ रिहायशी इलाकों में पाकिस्तानी सेना गोले बरसा रही थी। जिसके बाद भारत की तरफ से एलओसी पर 26 अक्टूबर को तोप का इस्तेमाल किया गया। तोप के गोले बरसाकर पाकिस्तान की चार चौकियों को पूरी तरह से तबाह कर दिया गया था। भारत की इस कार्रवाई में तकरीबन 40 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे। 2003 में संघर्ष विराम समझौता होने के बाद पहली बार एलओसी पर तोप का इस्तेमाल किया गया। जिस तरह की हिमाकत पाकिस्तान कर रहा था उसमें ये जरुरी भी हो गया था।

Loading...

Leave a Reply